Lucknow News – हजारों फर्जी सिम के माध्यम से भारत और चीन में बैठकर साइबर एवं आर्थिक अपराध करने वाले गिरोह का वांछित सदस्य और 1 लाख का इनामी अब्दुल रज्जाक अब्दुल नबी मेमन महाराष्ट्र के ठाणे से गिरफ्तार किया गया है । उत्तर प्रदेश की एटीएस ने ठाणे से अब्दुल रज्जाक अब्दुल नबी मेमन को गिरफ्तार किया है। मेमन को साइबर आर्थिक अपराध मामले में गिरफ्तार किया गया है । उसके खिलाफफ हजारों फर्जी सिम कार्ड के जरिए ठगी का मामला है ।

पता चला है कि फर्जी आईडी पर प्री एक्टिवेटेड सिम से धोखाधड़ी की जा रही थी

बता दें मामले में अब तक 3 चीनी नागरिकों समेत इस गिरोह के 17 सदस्य अब तक गिरफ्तार हो चुके हैं. एटीएस द्वारा गिरफ्तारी के बाद मेमन को ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाया जा रहा है. पुलिस के अनुसार आरोपी प्री एक्टिवेटेड सिम के जरिए ओटीपी प्राप्त करते थे और ऑनलाइन अकाउंट खोलते थे. फिर ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर अवैध रूप से धन मंगाते थे. प्री एक्टिवेटेड सिम कार्ड चीन भी भेजे गए थे. चीन और पड़ोसी देशों में बैठकर ये नेटवर्क चलाया जा रहा था.

जाली नोटों के रैकेट से जुड़ा है रज्जाक

अब्दुल रज्जाक अब्दुल नबी मेमन मुंब्रा के ठाकुरपाड़ा का रहने वाला है. पुलिस के अनुसार मेमन के खिलाफ जाली नोटों के रैकेट से जुड़े मामले में भारतीय दंड संहिता और आईटी कानून की संबंधित धाराओं के तहत लखनऊ में मामला दर्ज किया गया है. उत्तर प्रदेश एटीएस की लखनऊ इकाई ने मेमन को देश से भागने से रोकने के लिए लुकआउट नोटिस जारी किया था.

ये भी पढ़े Lucknow News : युवती ने डिप्टी जेलर को वीडियो कॉल कर शुरू की अश्लीलता । इसके बाद फोन कर 11 हजार रुपए की मांग की।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here