अर्नब गोस्वामी मामले पर बोले आशुतोष- गिद्ध बड़े असमंजस में; देखें आने लगे कैसे कमेंट

0
16

अर्णब गोस्वामी पर निशाना साधते हुए आशुतोष ने लिखा -गिद्ध बडे असमंजस में हैं। अर्णब के राष्ट्रवाद को सपोर्ट करें या न करें। आशुतोष के इस पोस्ट को देख कर कई लोग उन्हें कमेंट करने लगे।

TMC, BJP, Ashutosh, Ashutosh compared BJP. King Harishchandra, Trinmul Congress,
पत्रकार और पॉलिटिकल एनलिस्ट आशुतोष

अर्णब गोस्वामी की कथित लीक व्हॉट्सऐप चैट को लेकर खूब बवाल मचा है। ऐसे में पत्रकार और पॉलिटिकल एनलिस्ट आशुतोष ने एक पोस्ट किया है। अर्णब गोस्वामी पर निशाना साधते हुए उन्होंने लिखा -गिद्ध बडे असमंजस में हैं। अर्णब के राष्ट्रवाद को सपोर्ट करें या न करें। आशुतोष के इस पोस्ट को देख कर लोग उन्हें ट्रोल करने लगे और तीखे कमेंट करने लगे।

एक यूजर ने लिखा- गिद्ध समंजस में हैं? यदि गिद्ध की नज़र सीता माता को रामेश्वरम से श्री लंका देखने जैसी है तब वह राम भक्त अथवा राष्ट्रवादी ही कहलाता है ! इसके विपरीत जो खाते भारत का हैं और सेना से सबूत पाक पर स्ट्राईक के मांगते हैं वह ग़द्दार अवश्य हैं! सोचते रहो ग़द्दार कौन है। एक ने मजाकिया अंदाज में लिखा- #कौवे बड़े असमंजस में हैं,#बर्ड फ़्लू में बाहर निकलें या न निकलें ? निधि गुप्ता नाम की महिला यूजर ने लिखा- गिद्धों के बारे में काले काग को इतना कैसे पता है?

एक यूजर ने कहा- अर्णब गोस्वामी कितना बड़ा राष्ट्रभक्त है इसका अंदाजा आप इसी से लगा लीजिए, भारतीय पत्रकार अर्णब गोस्वामी के खिलाफ है पाकिस्तान। इमरान खान पाकिस्तान सरकार, बरखा, रविश, राजदीप की प्रशंसा करती है और अर्नब गोस्वामी से नफरत करती है, गद्दारों की पूंछ पर पैर रख दिया है अर्नब ने।

एक यूजर बोला- अर्णब ही नहीं, ऐसी पोस्ट और चैट हजारों राष्ट्रवादियों ने की थी, सबको पता था कि मोदी है, घर में घुस कर मारेगा, समय का अंदाजा नहीं था, पर सबको पता था। मजे की बात ये है कि अब तक तुमको सभी स्ट्राइक झूठी लगती थीं। जब पाकिस्तानी ने खुद 300+ का आंकड़ा बोला, अब तुम्हे ये सच लग रहा।

एक यूजर बोला- हां सही कहा, तुम जैसे गिद्ध जरूर असमंजस मैं हैं। अर्णब का सपोर्ट करते हो, तो राजमाता से टुकड़े मिलने बंद हो जाएंगे, नहीं करते तो राष्ट्रवादी संघी तुम्हें परेशान कर रहे हैं? बहुत बुरा समय है तुम्हारे लिए। स्मिता नाम की यूजर ने लिखा- राष्ट्रभक्तों को साबित करने की आवश्यकता नहीं मियां कि वो राष्ट्रभक्त है। सेना पर सवाल उठाने वाले, किसान को जिंदा पेड़ पर लटकाने वाले, दंगा कराने वाले, मजदूरों को बॉर्डर पर छोड़ने वाले, टुकड़े टुकड़े गैंग में शामिल होने वाले… को आवश्यकता पड़ती है रामभक्ति के ढोंग और पाखंड की!

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here